Krishna bhajan by Jagjit Singh, Tum dhoondho mujhe Gopal

Anisha Sharma
Views: 25976

Lyrics of Krishna bhajan: Tum dhoondho mujhe Gopal mai khoi gaiyaa teri

It is dusk now, please find me Gopal. (The dusk of life.) I am afraid.

तुम ढून्ढों मुझे गोपाल, मैं खोई गैया तेरी

सुध लो मोरी गोपाल, मैं खोई गैया तेरी

पाँच विकार से हाँकी जाये पाँच तत्व की ये देही

पर्वत भटकी दूर कहीं मैं, चैन न पाऊं अब केहीं

ये कैसा माया जाल, मैं उलझी गैया तेरी

सुध लो मोरी गोपाल, मै उलझी गैया तेरी

तुम ढून्ढों मुझे गोपाल, मैं खोई गैया तेरी

सुध लो मोरी गोपाल, मैं खोई गैया तेरी

जमुना तट न, नन्दन वन न, गोपी ग्वाल कोई दीखे

कुसुम लता न, तेरी छटा न, पाख पखेरू कोई दीखे

अब सांझ भई घनश्याम, मैं व्याकुल गैया तेरी

सुध लो मोरी गोपाल, मै व्याकुल गैया तेरी

Krishna and cows

तुम ढून्ढों मुझे गोपाल, मैं खोई गैया तेरी

सुध लो मोरी गोपाल, मैं खोई गैया तेरी

कित पाऊं तरुवर की छांव, जित राधे कृष्ण: कन्हैया

मन का ताप, शाप भट्कन का, तुम ही हरो, हरि रास रचैया

अब मूक निहारूं बाट, प्रभुजी मैं गैया तेरी

सुध लो मोरी गोपाल, मै खोई गैया तेरी

तुम ढून्ढों मुझे गोपाल, मैं खोई गैया तेरी

सुध लो मोरी गोपाल, मैं खोई गैया तेरी

बंसी के हर नाद पे तेरो मधुर तान से तुझे पुकारूं

राधा कृष्ण: गोविन्द हरि हर, मुरली मनोहर नाम तिहारो

मुझे उबारो हे गोपाल, मैं खोई गैया तेरी

सुध लो मोरी गोपाल, मै खोई गैया तेरी

तुम ढून्ढों मुझे गोपाल, मैं खोई गैया तेरी

सुध लो मोरी गोपाल, मैं खोई गैया तेरी…

Meaning of Krishna bhajan

This song says: I am your cow, O the keeper of cows Gopal. I am lost. Please find me and take me back to safety.

This body made of five elements (earth, water, fire, air and space) is driven by five errors of desire, anger, attachment, greed, etc. Driven by these errors, I am restless and cannot find peace. Please find me and take me in your care, O Gopal.

I am lost and do not see the banks of River Yamuna, Nandan-Van or any Gopi or Gwal (girls and boys of Vrindavan). I do not see flower vines, a glimpse of you or even birds. It is dusk now, please find me Gopal. (The dusk of life.) I am afraid.




blog comments powered by Disqus



Lilies through the year, Gardening calendar for North India

Impressions of Hanuman dhara, Chitrakoot

Find us on Facebook